Graam Pradhaan Ke Khilaaph Kahaan Par Shikaayat Karen / ग्राम प्रधान के खिलाफ कहां पर शिकायत करें - Lavanya Fabric Design Lavanya Fabric Design

Graam Pradhaan Ke Khilaaph Kahaan Par Shikaayat Karen / ग्राम प्रधान के खिलाफ कहां पर शिकायत करें




Click Image and Watch full video for detail process

दोस्तों ! अगर आपके गांव में ग्राम प्रधान सरकारी पैसे को लूट रहा है यानी सरकार के द्वारा पैसे आ रहा है और आपके गांव में उस पैसे के द्वारा कोई विकास का कार्य नहीं हो रहा है। तो आप उसके खिलाफ आरटीआई के तहत शिकायत दर्ज कर सकते हैं। आप gram pradhan ki sikayat kaise kare हम आपको वीडियो के माध्यम से भी बताएं हैं  शिकायत दर्ज करने के लिए सबसे पहले आपको सरकार की वेबसाइट  https://www.planningonline.gov.in/) पर जाकर के सारा डाटा चेक करना होगा। plan Plus  उत्तर प्रदेश सरकार की वेबसाइट है जिस पर gram panchayat के सारे खर्चे का विवरण दिया हुआ है। इसलिए दिया हुआ है कि ग्राम पंचायत के ग्राम प्रधान, सचिव और भी बाकी जो अधिकारी हैं भ्रष्टाचार न कर सके। लेकिन इसके बावजूद भी यह अधिकारी और ग्राम प्रधान मिलकर के सरकारी पैसे को खूब लूट रहे हैं तो sarpanch ki sikayat  आपको अवश्य दर्ज करनी है। सबसे पहले plan Plus website  को ओपन करें। आपको किसी भी ब्राउज़र में (https://www.planningonline.gov.in) टाइप करना है।
यह वेबसाइट खुल जाएगा उसके बाद आपको वेबसाइट के अंदर एक सिटीजन सेक्शन का कॉलम है। वहां पर आपको क्लिक कर देना है। उसके बाद Plan Wise Reports पर क्लिक कर देना है फिर Approved Action Plan Report क्लिक कर देना है। क्लिक करने के बाद आपको जिस वर्ष का डाटा चेक करना है उस वर्ष को  आपको सिलेक्ट कर लेना है। उसके बाद भारत का सारा प्रदेश शो करेगा आपको अपना प्रदेश सेलेक्ट करना है। फिर जैसे ही आप अपने प्रदेश के रिकॉर्ड पर क्लिक करेंगे तो  सारा जिला शो करेगा। आपको अपना जिला सेलेक्ट कर लेना है। फिर आपके जिले में जितना block panchayat है वह शो करेगा। 

आपको अपना ब्लॉक पंचायत सेलेक्ट करना है। उसके बाद आपको अपना gram panchayat क्षेत्र सिलेक्ट करना है और Gram Panchayat & equivalent कॉलम में क्लीक कर देना है। लास्ट में व्यूज का ऑप्शन उस पे क्लिक कर देना है। क्लिक करने के बाद आपको वहां पर सारा डाटा शो करेगा कि आपके ग्राम प्रधान को साल में कितने पैसे आए हैं और वह कहां कहां खर्च किया है। इन सारी चीजों को आप यहां पर देख सकेंगे। देखने के बाद आप उसका पीडीएफ डाउनलोड कर लें और उसे प्रिंट आउट करवा लें। प्रिंटआउट करवाने के बाद उसमें जितने भी कार्य नहीं कराए गए हैं आप उसको मार्क करें कि यह काम हमारे गांव में नहीं हुआ है और इतने पैसे इसमें खर्च हुए हैं। उसको एक सादे पेज पर लिख लें कि यह कार्य हमारे गांव में नहीं हुआ है और इसमें इतने पैसे खर्च हुए हैं। जहाँ पर भी आपको शक है कि यह काम नहीं हुआ है उन सारे कार्यों का एक विवरण आप  सादे कागज पर तैयार कर ले। तैयार करने के बाद आपको शिकायत दर्ज करने की एक वेबसाइट को खोलना है। आपको अपने ब्राउज़र में google.com खोलना है और सर्च बॉक्स में RTI टाइप करना है।  
इस वेबसाइट का नाम है (https://rtionline.gov.in) जब यह वेबसाइट खुल जाए। इसके अंदर submit request पर क्लिक करना है। सबमिट रिक्वेस्ट पर क्लिक करने के बाद इस वेबसाइट की गाइडलाइन खुल करके आ जाएगी। उस गाइडलाइन में नीचे जो चेक का ऑप्शन बना है उस पर चेक कर देना और सबमिट पर क्लिक कर देना है। क्लिक करने के बाद आपको एक फार्म खुल करके आ जाएगा। उस फार्म को आप को भर देना है। भरने के बाद नीचे डिस्क्रिप्शन बॉक्स में आपको अपना शिकायत लिख देना है। लिखने के बाद Supporting document ऑप्शन में जो आपने सादे कागज पर लिखा है और प्लान प्लस का प्रिंटआउट जो आपने मार्क कर रखा है कि यह काम नहीं हुआ है वह दोनों फाइल यहां पर अटैच करके Enter security code में कोड भरने के बाद सबमिट कर दें। सबमिट करने के बाद आपको यहां पर पेमेंट का ऑप्शन आएगा। जिसमें मात्र आपको Rs.10 का पेमेंट करना है। यह पेमेंट नेट बैंकिंग, डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड से कर सकते हैं। पेमेंट करने के बाद आपको एक ट्रैकिंग नंबर मिलेगा। उसे आप नोट कर लें और RTI के साइट पर View Status  पर क्लिक करके अपने शिकायत का स्टेटस चेक करते रहें। 

इसमें 1 महीने का टाइम लगता है 1 महीने के अंदर ग्राम प्रधान को इन सारी चीजों का जवाब देना पड़ता है कि हमने यह काम क्यों नहीं करवाया या इसका पैसा कहां गया। उस सारा जवाब Gram Pradhan को देना पड़ता है अगर वह नहीं देता है तो उसके ऊपर सरकार द्वारा कानूनी कार्रवाई शुरू हो जाती है। 


अब आप कर सकेंगे ग्रामीण एप के द्वारा शिकायत

Gram Panchayton में होने वाले विकास कार्यों में chori की शिकायत अब ग्रामीण पंचायती राज विभाग की एप पर Online कर सकेंगे। शिकायत करने के लिए शासन स्तर से विभाग ने नई एप किया गया है। Gramin App पर विभाग की योजनाओं के बारे में भी जानकारी भी ले सकेंगे। वहीं अब शिकायतकर्ताओं की शिकायत का भी समय पर निस्तारण होगा। विभाग द्वारा शिविर लगाकर ब्लॉकों पर ग्रामीणों को इस एप का प्रशिक्षण भी दिया जायेगा । शासन के आदेश पर जिले में विकास कार्य कराए जाते हैं और करोड़ों रुपये की राशि विकास कार्यों पर खर्च किया जाता है। 

विकास कार्यों में धांधलेबाजी भी खूब होती है और आए दिन विभागीय अफसरों को इसकी शिकायत प्राप्त होती रहती हैं। विभाग की माने तो प्रतिदिन 5 से 10 शिकायत विकास संबंधित कार्यों में लापरवाही की मिल ही जाती हैं। शिकायतों के निस्तारण का ग्राफ देखा जाए समाधान जल्दी नहीं होता है। लेकिन अब ऐसा नहीं होगा शासन ने Panchayati Raj Vibhag  ने शासन स्तर से नया एप जारी कर दिया है। गांवों में चल रहे विकास कार्यों में धांधलेबाजी की शिकायत एप पर फोटो के साथ आप कर सकते हैं। इसमें चाहे वह शिकायत ग्राम प्रधान की हो या फिर विभागीय अफसर की हो।  

Shikayat App पर डालते ही वह शासन में पहुंच जाएगी और वहां से जांच के लिए अफसरों को लिखा जाएगा। इसके अलावा गांवों में विकास के लिए क्या-क्या योजनाएं विभाग द्वारा चलाई गयी इनकी जानकारी भी Gramin  App पर एक क्लिक के माध्यम से जान सकेंगे। DPRO ने बताया कि ब्लॉकों पर शिविर लगाकर जल्द एडीओ पंचायत, ग्राम सचिव व बीडीओ प्रधान व लोगों को एप का प्रशिक्षण देंगे। इससे कोई भी व्यक्ति जिले की सभी ग्राम पंचायतों का रिकार्ड देख सकेगा। किस गांव में कितने शौचालय बनाए गए हैं और कितना विकास गांव में कराना है। साथ ही गांव को विकास के लिए कितनी राशि आवंटित की गई है। इसकी सम्पूर्ण जानकारी इस एप पर मौजूद रहेगी। जिससे प्रधान व ग्रामीणों को भी एक क्लिक पर पूरी जानकारी मिल जाएगी। ---- शिकायत का समाधान होते ही मिलेगा मोबाईल पर मैसेज आ जायेगा।  यदि शिकायत का निस्तारण नहीं होता है, तो इसके बारे में भी बताया जाएगा। उच्चाधिकारी शिकायतकर्ता को फोन करके इसका फीड बेक भी लेंगे। 

Panchayat Raj Vibhag की नई एप शुरू हो गई है। शिकायतकर्ता Online इस एप पर शिकायत दर्ज करा सकते हैं। शिकायत सीधी शासन में जाएगी और उसका जिला स्तर पर एक सप्ताह के भीतर निस्तारण कर दिया जाएगा। ब्लॉकों पर ग्रामीणों को भी जल्द इस एप का प्रशिक्षण दिया जाएगा।

इस तरह जानिए कि ग्राम पंचायत को कितना पैसा मिला और कहां खर्चा हुआ





4 comments:

  1. Gram pardhan shuman mishra
    Karhena majra behad me rasta khrab ho
    Jane se logo ko ane jane me dekar hoti hai
    Jab kho ke to khte hai meri khate bhar nahi hai

    ReplyDelete
  2. मुझे ग्राम प्रधान कि शैक्षिक योग्यता पर एक आरटीआई लगानी है कृपया बताएं किसको लिखूं
    मै उत्तराखण्ड में रहता हूं

    ReplyDelete
  3. मुझे अपने गांव की सभी कार्यों की जानकारी चाहिए कहां से प्राप्त हो
    उत्तर प्रदेश डिस्ट्रिक्ट इटावा का रहने वाला

    ReplyDelete
  4. मैं कमलेश कुमार उत्तर प्रदेश से हैं यहां का ऐसा प्रधान है मनरेगा में इतनी काम किए हुए हैं पूरा पैसा खा गया है परधान चपा काल बिगड़ा हुआ है बनवा नहीं रहा है और शौचालय आदमी का आया हुआ है और अधूरा बनाकर छोड़ दिया गया है

    ReplyDelete

Thanks for visit my website.