डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड, एटीएम कार्ड, फोन पे, गूगल पे, भीम यूपीआई से हैकर कैसे करते हैं पैसे चोरी - Digital Dunia -->

Sep 22, 2021

डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड, एटीएम कार्ड, फोन पे, गूगल पे, भीम यूपीआई से हैकर कैसे करते हैं पैसे चोरी

यदि आप अपने मोबाइल से Debit Card, Credit Card, ATM Card, Phone Pay, Google Pay, BHIM UPI  आदि चीजों का प्रयोग करते हैं तो सावधान रहें। क्योंकि हैकर की निगाहें बहुत तेज है आप सोच भी नहीं सकते आपके मोबाइल फोन से सारे पैसे ट्रांसफर हो सकते हैं। बहुत लोगों के पैसे हो भी गए हैं। 

Mobile App से कैसे होती है चोरी ? (How is theft done by mobile app?)

जब भी आप बिना सोचे समझे कोई ऐप इंस्टॉल करते हैं तो उसके प्राइवेसी पॉलिसी और टर्म एंड कंडीशन को बिना पढ़े ओके करते जाते हैं और वह आपके मोबाइल में इंस्टॉल हो जाता है और वह ऐप हमारे मोबाइल का सारा डाटा दूसरे जगह शेयर कर देता है। हमें पता भी नहीं चलता की हैकर इस सुविधा का लाभ उठाकर सारा डाटा अपने पास रखते हैं और जब उन्हें आपके मोबाइल से पैसे साफ करना होता है तो इसका का उपयोग करते हैं। इससे बचने का एक ही उपाय है, आप जब भी कोई Mobile App इंस्टॉल करें उसकी प्राइवेसी पॉलिसी और टर्म एंड कंडीशन को  जरूर पढ़ें। उसके बाद ही अपने मोबाइल में इंस्टॉल करें। 

भीम यूपीआई,  गूगल पे, फोन पे आदि से चोरी  (Theft from BHIM UPI, Google Pay, Phone Pay etc.)

जब आप कोई भी वैलेट यूज करते हैं तो हैकर आपको रिवार्ड्स का ऑफर भेजते हैं। आप रीवार्ड्स रिडीम करने के चक्कर में अपना पैसा गवा देते हैं। पहले वह आपको हजार 500 का रीवार्ड्स देते हैं। जिससे आप बहुत खुश हो जाते हैं आपको लगता है कि हमें रीवार्ड्स मिल रहा है लेकिन हैकर दो तीन बार रिवार्ड्स देने के बाद ऐसा टूल प्रयोग करते हैं जिससे आपके अकाउंट से हजारों रुपया साफ हो जाता है। आपको लगता है कि हमें रिवॉर्डज मिला है जैसे ही आप उसे प्रोसेस करते हैं आपके अकाउंट से हजारों रुपया साफ हो जाता है। इसके लिए सावधानी यह है कि जब भी कोई रिवॉर्ड का मैसेज आये तो उसको अच्छी तरह से पढ़े। उसके बाद ही उसको प्रोसेस करें, नहीं तो लेने के देने पड़ जाएंगे। 

कैसे होती है चेक बुक से चोरी ? (How is check book stolen?)

यदि आप चेक बुक का इस्तेमाल करते हैं तो सावधान रहें। कई बार हम देखते हैं कि चेक बुक हमारे घर पर है और उसी चेक बुक के द्वारा हमारे खाता से पैसे निकल गया । हैकर यह तरीका पोस्टमैन और बैंक कर्मचारी की मिलीभगत से करते हैं। जब आपका चेक बुक डाक से आता है तो हैकरों की निगाहें आपके चेक बुक पर टिकी रहती है। बैंक का कर्मचारी उन्हें बता देता कि आपका चेक बुक इश्यू हो गया है और वह पोस्टमैन से मिलकर के उसका फोटो खींच लेते हैं। उसके बाद डुप्लीकेट चेक बुक तैयार कर लेते हैं और बैंक कर्मचारी की मदद से आपका उन्हें सिग्नेचर भी मिल जाता है। जिससे वह आपके अकाउंट को साफ कर देते हैं। 

नेट बैंकिंग से चोरी कैसे होता है ? (How is net banking stolen?)

जब भी हम लैपटॉप या कंप्यूटर पर नेट बैंकिंग का प्रयोग करते हैं तो हैकर इसका भी फायदा उठाते हैं। हैकर website malicious and cookie टूल का प्रयोग करते हैं। वह इसके द्वारा हमारे ब्राउज़र में malicious and cookie भेजते हैं। जैसे ही हम उसे एक्सेप्ट करते हैं वह हमारे लैपटॉप और कंप्यूटर का डाटा वहां भेजना चालू कर देता है। जो आईडी पासवर्ड हम प्रयोग करते हैं। वह उसके माध्यम से उनके पास पहुंच जाता है और वे इसका फायदा उठाते हैं। इससे बचने का उपाय है। आप जब भी लैपटॉप/कंप्यूटर पर नेट बैंकिंग का प्रयोग करें तो इन सारी चीजों को Avoid करें। जब भी किसी ब्राउज़र के खोलने पर cookie शो करें तो उसे एक्सेप्ट ना करें। 

एटीएम मशीन से पैसे की चोरी (Money theft from atm machine)

जब भी आप एटीएम मशीन में पैसे निकालने के लिए जाएं तो सावधान रहे, क्योंकि बहुत सारे एटीएम मशीन में हैकर कुछ ऐसा चीज फंसा देते हैं जिससे जब आप डेबिट कार्ड या क्रेडिट कार्ड एटीएम मशीन में डालकर आप पासवर्ड देकर पैसे निकालने की कोशिश करते हैं आपका पैसा नहीं निकल पाता है। आप डेबिट कार्ड निकाल कर के घर चले आते हैं। हैकर वहीं कुछ दूरी पर खड़े रहते हैं और जैसे ही आप चले जाते हैं। आप ही के डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड से बड़े ही आसानी से पैसे निकाल लेते हैं। जब भी आप के साथ इस तरह का धोखा हो आप तुरंत अपने बैंक के कस्टमर केयर को फोन करें और कंप्लेन दर्ज करें। 

सस्ता लोन के चक्कर में चोरी (Theft due to cheap loan)

बहुत सारे हैकर बैंक कर्मचारी बनकर आप को लोन देने वादा करते हैं और आप उसे जैसे ही स्वीकार कर लेते हैं। वह आपके पास सिक्योरिटी फीस के रूप में कुछ पैसे लेने के लिए आ जाते हैं और आप उन्हें चेक से पेमेंट करते हैं, लेकिन जब आप चेक भरते हैं तो यह हैकर कई बार आपको अपना पेन पकड़ा देते हैं जिससे आप उस पेन से भरते हैं। वह पेन मास्टर पेन होता है जिसे वह बाद में मिटा करके अपने हिसाब से एक मोटा रकम  भर कर के आपके अकाउंट से पैसे निकाल लेते हैं। जब भी कोई व्यक्ति आपको लोन का ऑफर दे तो आप सावधान रहें और उनके दिए हुए पेन का इस्तेमाल ना करें अपने घर का अपना पेन प्रयोग में लाएं।

FAQ.
  • बैंक धोखाधड़ी शिकायत कहाँ करें ?
  • एटीएम धोखाधड़ी की शिकायतों कहाँ करें ?
  • bank se paise kaise nikale
  • upi धोखाधड़ी शिकायत कहाँ करें ?
  • ऑनलाइन ठगी की शिकायत कैसे करे ?
  • ग्राहक की ठगी की शिकायत कैसे करे ?
  • ऑनलाइन लोन फ्रॉड क्या होता है ?
  • dusre ke account se apne account me paise kaise transfer karte हैं ?

No comments:

Post a Comment

Please don't put any link in comment. Thanks for visit my website.

close